हिरावल

हिरावल ( Hiraval )
(लोकरंग 2008, 2009)

हिरावल नाट्य मंच ,पटना का गठन वर्ष 1981 में जनप्रतिरोध की संस्कृति के संरक्षण,संवर्द्धन के लिए किया गया था । संस्था ने अपनी अब तक की तमाम प्रस्तुतियों के आधार पर प्रगतिशील संस्कृति को फैलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है ।
पिछले साल अपनी स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में इसने पटना में `रजत जयंती नाट्य समारोह´ आयोजित किया। हिरावल ने अपने रंग सफ़र की शुरुआत नुक्कड़ नाटक और जनगीतों की प्रस्तुतियों से की। आगे चलकर इसने मंच नाटकों की ओर भी क़दम बढ़ाया। मुख्य रूप से पटना में सक्रिय यह नाट्य दल बिहार-झारखंड के गांव-कस्बों से लेकर देश के विभिन्न प्रांतों में अपने नाटकों का प्रदर्शन कर चुका है।

Comments are closed