प्रस्तुतियाँ (2014)

‘लोकरंग 2014’ स्मारिका का लोकार्पण /कार्यक्रम का अनौपचारिक उद्घाटन । रात्रि 9.30 से 9.40 सोहर गीत, कुमारी मनीषा, निशा, अंकिता, रुचि, गरिमा और संगीता की प्रस्तुति । रात्रि 9.40 से 10.05 सचिन्द्र यादव (उ.प्र.विजेता), गाजीपुर की लोक गायकी । रात्रि 10.10 से 10.40 फरुवाही, नागेश्वर यादव (मुख्य कलाकार) एवं नन्द लाल यादव, महेन्द्र यादव, विक्रम यादव, कोमल प्रसाद, पिंटू, दुर्गा, पंकज, नारद, रामप्रवेश शर्मा एवं बृजेश यादव की प्रस्तुति। रात्रि 10.45 से 12.25 कला जागरण, पटना की प्रस्तुति, नाटक-अमली रात्रि 12.30 से 12.55 निर्गुन गायन, भोला दास कबीर पंथी (मुख्य कलाकार), लोबी चंद, जवाहर, नरसिंह दास, ग्राम- पड़रिया, कटया, गोपालगंज की प्रस्तुति । रात्रि 1.00 से 1.20 जितेन्द्र प्रजापति (ग्राम/पो. नौतन हथियागढ़, देवरिया) के जनगीत । दिन की बैठकी, 28 मई, 2014 प्रातः 11 से अपराह्न 2 बजे तक वैचारिक गोष्ठी विषय-‘लोक नाट्यों की परंपरा और परिवर्तन की आवश्यकता’ अघ्यक्षताः  डाॅ बृज बिहारी लाल वर्मा ‘बिरजू’ (रंगकर्मी आगरा), मदन मोहन , प्रणय कृष्ण दूसरी रात की बैठकी, 28 मई, 2014: 9.15 रात्रि से रात्रि 9.15 से 9.25 विशाल कुमार गौड़ द्वारा जनगीत । रात्रि 9.30 से 9.50 चइता गायन, कलाकार- सूर्यभान कुशवाहा एवं साथी, ग्राम-मीर बिहार । रात्रि 9.55 से 10.20 मुहर्रम का जारी गीत, कलाकार-आबिद अली (मुख्य गायक), कलीमुल्लाह, जहीर, साजिद और अन्य, ग्राम दीना पट्टी । रात्रि 10.25 से 11.55 रंगनायक, बेगूसराय की प्रस्तुति, नाटक- चरणदास चोर । रात्रि 12.00 से 12.25 शैलेन्द्र मिश्र (बलिया) के जनगीत । रात्रि 12.30 से 12.50 बिरहा गायन, गाजीपुर के सत्येन्द्र कुमार और साथियों की प्रस्तुति । रात्रि 12.55 से 1.25 पंवारा, समसुद्दीन, शबीर, हरीफ, मुमताज एवं अन्य। सिसवा नहर, कुशीनगर । रात्रि 1.25 समापन और धन्यवाद ज्ञापन/ ग्रुप फोटोग्राफी ।

Comments are closed