विश्वा, पटना

युवा रंगकर्मियों, लेखकों, संगीतकारों और चित्रकारों का एक समूह है । यह संस्था पहली रात फणीश्वरनाथ रेणु की कहानी ‘तीसरी कसम’ का नाट्य रूपांतरण प्रस्तुत किया  । नाट्य रूपांतरण किया था प्रसिद्ध साहित्यकार पुंज प्रकाश ने और निर्देशन राजेश राजा का था ।
इसी संस्था द्वारा दूसरी रात परदेशी राम वर्मा की कहानी पकड़ पर आधारित नाटक-‘जो घर जारै आपना’ प्रस्तुत किया गया  जिसके निर्देशक राजेश राजा थे ।

Comments are closed